TPL_GK_LANG_MOBILE_MENU

Deprecated: Non-static method JApplicationSite::getMenu() should not be called statically, assuming $this from incompatible context in /home/mediabhadas/news/templates/gk_news/lib/framework/helper.layout.php on line 181

Deprecated: Non-static method JApplicationCms::getMenu() should not be called statically, assuming $this from incompatible context in /home/mediabhadas/news/libraries/cms/application/site.php on line 266

सोशल मीडिया

सडेन कार्डियक अरेस्ट के शिकार युवा आईएएस अधिकारी का सावित्री आसन से प्राथमिक उपचार किया गया होता तो जान बच गई होती

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

Sanjay Sinha : आपने खबर पढ़ी होगी कि दो दिन पहले उत्तराखंड के एक आईएएस अधिकारी नोएडा के मॉल में अपनी पत्नी और दो छोटे बच्चों के साथ खाना खा रहे थे, तभी उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी मृत्यु हो गई। 39 साल के इस आईएएस अधिकारी का नाम था- अक्षत गुप्ता। ये उधमसिंह नगर में कलेक्टर थे। इनकी पत्नी भी आईपीएस अधिकारी हैं और ये परिवार उत्तराखंड से नोएडा घूमने-फिरने के ख्याल से आया था। यह बताने के लिए आज मैं पोस्ट नहीं लिख रहा कि वो कितने लोकप्रिय अधिकारी थे, कितनी मेहनत करके वो आईएएस अधिकारी बने थे, या उनके दोनों बच्चे कितने छोटे हैं। मैं आज सिर्फ अागाह करने के लिए पोस्ट लिख रहा हूं कि उस अधिकारी के साथ अचानक जो हुआ, वो किसी के साथ कभी भी कहीं भी हो सकता है।

Read more: सडेन कार्डियक अरेस्ट के शिकार युवा आईएएस अधिकारी का सावित्री आसन से प्राथमिक उपचार किया गया होता...

कुछ रह तो नहीं गया...

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

"अरे सब सामान ले लिया क्या? बस में किसी का कुछ रह तो नहीं गया?

"जी सर, सब ले लिया।" स्कूल ट्रिप से वापिस आये सब बच्चे एक साथ चिल्लाये और बस से उतरकर घर की तरफ दौड़ गए।

"सर, फिर भी बस में देख लेना।"

Read more: कुछ रह तो नहीं गया...

रात में जब सोने का टाइम होता है तो मेरा पति लैपटॉप लेकर लेट जाता है!

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

Sanjay Tiwari : दिल्ली पुलिस ने एक साल में 12700 ऐसी महिलाओं का काउंसिलिंग करके घर वापस भेज दिया जो पतियों पर महिला उत्पीड़न का केस दर्ज कराने आई थीं। उन्हें शिकायत क्या थी? शिकायत यह थी कि उनके पति फेसबुक का पासवर्ड नहीं बताते। वाट्स एप को लॉक करके रखते हैं। खाने में कमी निकालते हैं। और तो और रात में जब सोने का टाइम होता है तो लैपटॉप लेकर लेट जाते हैं।

Read more: रात में जब सोने का टाइम होता है तो मेरा पति लैपटॉप लेकर लेट जाता है!

देश की परंपराओं से मुसलमानों को ही मुश्किल क्यों होती है

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

Sanjay Tiwari : धार्मिक रूप से देखें तो देश के हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन और ईसाई देश के मुद्दे पर देश के साथ किसी बहस में नहीं है। बहस में हैं सिर्फ मुस्लिम। पहले भी थे, अब भी हैं और आगे भी बहस में बने रहेंगे। वन्देमातरम बोलना हो या भारत माता की जय, तिरंगा फहराना हो या देश के लिए तेवर दिखाना हो किसी गैर मुस्लिम को देश की परंपराओं से कोई आपत्ति नहीं है। न तो उसका मजहब आड़े आता है और न ही मानसिकता। मुश्किल होती है मुसलमान के साथ।

Read more: देश की परंपराओं से मुसलमानों को ही मुश्किल क्यों होती है

एक प्रदेश में बन गया नया नियम : सोशल मीडिया पर नेताओं का मजाक उड़ाने पर जेल

  • Written by डॉ. पुरुषोत्तम मीणा 'निरंकुश'
  • Category: सोशल मीडिया

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

तमिलनाडु से खबर है कि सोशल मीडिया पर नेताओं का मजाक उड़ाने पर जेल की हवा खानी पड़ सकती है। ऐसा करने वालों के खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जायेगी। कुछ मित्रों को इस खबर के हवाले से यह बोलने और लिखने का मौक़ा मिल सकता है कि यह अभिव्यक्ति की आजादी पर सरकारी हमला है। मैं इससे सहमत नहीं हूँ। सोशल मीडिया पर जिस दिन से जुड़ा था, उसी दिन से मेरा स्पष्ट मत है कि जो कोई भी सोशल मीडिया पर हल्की, अभद्र या स्तरहीन भाषा का इस्तेमाल करे, उसे केवल सजा ही नहीं, कठोर सजा मिलनी चाहिए। कारण भी बतला दूँ-

Read more: एक प्रदेश में बन गया नया नियम : सोशल मीडिया पर नेताओं का मजाक उड़ाने पर जेल

सर्वाधिक लोकप्रिय पोस्ट

Follow Us>      Facebook         Twitter         Google+