TPL_GK_LANG_MOBILE_MENU

प्रदेश

दिल्ली, डीजल, मुनाफा, जनसत्ता के वो दिन और ये बेइमान नेता

  • Written by संजय कुमार सिंह
  • Category: प्रदेश

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

Sanjaya Kumar Singh : योजना आयोग के साथ और उसके बिना... बहुत पुरानी बात है, कुछ लोग दिल्ली आए हुए थे और वापस जाने की उनकी ट्रेन पुरानी दिल्ली से थी। रास्ता एकसप्रेस बिल्डिंग होकर था और तय हुआ था कि मैं एक्सप्रेस बिल्डिंग से उनलोगों के साथ गाड़ी में सवार होकर स्टेशन जाउंगा और ट्रेन में बैठाकर वापस आ जाउंगा। चूंकि छोड़ने वाली गाड़ी को इसी रास्ते वापस लौटना था इसलिए मुझे उसी से वापस एक्सप्रेस बिल्डिंग आ जाना था। उस दिन ड्यटी क्या थी वह सब अब याद नहीं है पर उन दिनों हमलोग कहीं से भी घूम-फिर कर एक्सप्रेस बिल्डिंग पहुंच जाते थे ढाबे पर खाना खाते थे और ज्यादा देर हो जाए तो रात में कर्मचारियों को घर छोड़ने वाली कंपनी की गाड़ी से या किसी साथी के साथ बस से घर आ जाते थे। उन दिनों साथियों के पास दुपहिया भी अपवाद ही थे और डीटीसी की बस के अलावा कोई विकल्प नहीं था। देर सबेर जब आ जाती थी उसी में सवार होना होता था और रात में इक्का-दुक्का ही सही बसें चलती रहती थीं।

Read more: दिल्ली, डीजल, मुनाफा, जनसत्ता के वो दिन और ये बेइमान नेता

यूपी में मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव जैसे पदों पर बैठे लोग फर्जी अभिलेख बनाते हैं, इन्हें दंडित कराऊंगा : अमिताभ ठाकुर

  • Written by अमिताभ ठाकुर
  • Category: प्रदेश

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

Amitabh Thakur : कैट के आदेश के बाद भी मेरी बहाली नहीं करने के सम्बन्ध में मेरे द्वारा दायर याचिका पर कैट ने प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पांडा के खिलाफ अवमानना नोटिस जारी किया है. जिन बड़े-बड़े आईएएस अफसरों ने राजनैतिक आका को खुश करने के लिए मेरे मामलों में फर्जी अभिलेख बनाने का घिनौना काम किया, उनके सबूत अब मेरे हाथ में हैं और अपनी आदत के मुताबिक मैं उनकी जिम्मेदारी तय कराने में लग चुका हूँ. निजी फायदों के लिए कितना गिरेंगे ये घिनौने सफेदपोश नौकरशाह!

Read more: यूपी में मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव जैसे पदों पर बैठे लोग फर्जी अभिलेख बनाते हैं, इन्हें दंडित...

मजदूर दिवस पर आईएफडब्लूजे प्रतिनिधिमंडल ने लखनऊ में सौंपा श्रम मंत्री को ज्ञापन

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में कार्यरत मीडियाकर्मियों के वेतन और अन्य सुविधाओं के लिए जल्दी ही प्रभावी कदम उठाए जाएंगे। मजीठिया वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू किए जाने पर उत्तर प्रदेश की स्थिति की रिपोर्ट जल्दी ही तैयार कर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की जाएगी। उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री शाहिद मंजूर ने मजदूर दिवस के मौके पर इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट (आईएफडब्लूजे) के प्रतिनिधि मंडल को यह आश्वासन देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार मीडिया कर्मियों को स्वास्थ सुविधाएं दिए जाने को लेकर भी उचित कदम उठाएगी।

Read more: मजदूर दिवस पर आईएफडब्लूजे प्रतिनिधिमंडल ने लखनऊ में सौंपा श्रम मंत्री को ज्ञापन

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी द्वारा लखनऊ में ’RTI भवन’ के उद्घाटन का विरोध करेंगे समाजसेवी

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की सरकार ने सरकारी खजाने से लगभग 25 करोड़ की भारी-भरकम रकम खर्च करके राज्य सूचना आयोग के लिए सभी अत्याधुनिक सुख-सुविधाओं से लैस बिल्डिंग बना तो दी और इसे ‘RTI भवन’ का एक अच्छा सा नाम भी दे दिया पर लगता है कि उद्घाटन को लेकर इस  ‘RTI भवन’ की किस्मत कुछ ठीक नहीं है l  पहले इस ‘RTI भवन’ का उद्घाटन सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथों बीते 11 अप्रैल को  होना था पर सूचना आयुक्तों की कार्यप्रणाली से क्षुब्ध आरटीआई कार्यकर्ताओं  द्वारा उसी दिन ‘RTI भवन’ के मुख्य द्वार के सामने सभी सूचना आयुक्तों का पुतला दहन कर विरोध प्रदर्शन करने के ऐलान के चलते अखिलेश ने कार्यक्रम से अपने हाथ पीछे खींच लिए और 11 अप्रैल से आयोग का विधिवत कार्य ‘RTI भवन’ का उद्घाटन हुए बिना ही आरम्भ हो गया थाl

Read more: उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी द्वारा लखनऊ में ’RTI भवन’ के उद्घाटन का विरोध करेंगे समाजसेवी

मुलायम सिंह यादव ने जेपी समूह को वन विभाग की 2500 एकड़ ज़मीन का किया अवैध आवंटन!

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

सीबीआई जांच की मांग, भूमि पर किये खनन से हुयी हानि की भरपाई जेपी समूह से करायी जाये

लखनऊ : जेपी समूह को वर्ष 2006 में मुलायम सिंह सरकार द्वारा वन विभाग की 2500 एकड़ भूमि के अवैध अवैध आवंटन  के मामले की हो सीबीआई जाँच” यह मांग आज एस.आर.दारापुरी भूतपूर्व आई.जी. तथा राष्ट्रीय प्रवक्ता, आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में उठाई है. उन्होंने आगे कहा है कि उक्त भूमि मुलायम सिंह सरकार द्वारा वर्ष 2006 में सोनभद्र स्थित यूपी सीमेंट कारपोरेशन के दिवालिया होने पर जेपी समूह को बेचते समय दी गयी थी.

Read more: मुलायम सिंह यादव ने जेपी समूह को वन विभाग की 2500 एकड़ ज़मीन का किया अवैध आवंटन!

सर्वाधिक लोकप्रिय पोस्ट

Follow Us>      Facebook         Twitter         Google+