TPL_GK_LANG_MOBILE_MENU

दुख-सुख

The truth about 'Veer' Savarkar : ...what was so 'veer' about Savarkar?

  • Written by मार्कंडेय काटजू
  • Category: दुख-सुख

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

Today is the birth anniversary of 'Veer' Savarkar (1883-1966). Many people have praised him as a great freedom fighter, but what is the truth about him? The truth is that many nationalists during British rule were arrested by the British, and given long sentences.  In jail the British authorities would give them an offer : either collaborate with us, in which case we will free you, or rot in jail for the rest of your life.

Read more: The truth about 'Veer' Savarkar :...what was so 'veer' about Savarkar?

आंबेडकर के लिए इतने घमासान के निहितार्थ समझिए

  • Written by राहुल वर्मा
  • Category: दुख-सुख

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

-राहुल वर्मा-

डॉ. भीमराव आंबेडकर अपनी 125वीं जयंती पर भारतीय राजनीति में नए चुनावी जोड़ तोड़ के केंद्र में हैं. कांग्रेस, बीजेपी, बीएसपी, आप और वाम पार्टियाँ उन्हें अपना घोषित करने की तेज़ लडाई में लगी हैं. अधिकतर राजनीतिक टिप्पणीकारों का दावा है कि आंबेडकर और उस की धरोहर को हथियाने को लेकर पार्टियों में यह वाकयुद्ध दलितों को जीतने के लिए है. क्या इस से हमें हैरानी होनी चाहिए? आखिरकार सभी पार्टियों का उद्देश्य अपने वोट बैंक को बढ़ाना और कुर्सी जीतना है. दिलचस्प प्रश्न तो यह है कि अब भाजपा डॉ. आंबेडकर को हथियाने के लिए उतावली क्यों है, पांच या दस साल पहले क्यों नहीं थी? पिछले कुछ महीनों से बीजेपी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के अधीन दलितों को पटाने के प्रयास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है. मोदी ने स्वयं को आंबेडकर भक्त कहा है, महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडनविस की सरकार ने लन्दन में पढ़ने के दौरान आंबेडकर जिस मकान में रहते थे को खरीद लिया है.

Read more: आंबेडकर के लिए इतने घमासान के निहितार्थ समझिए

मोदी गो बैक का नारा लगाने के कारण बीबीएयू के मेस में नान वेज हुआ प्रतिबंधित!

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

संघ बताए मछली वेज या नानवेज, अगर वाजपेयी नान-वेज खा सकते हैं तो फिर दलित छात्र क्यों नहीं, नान वेज खाने वाले देशों से आर्थिक सम्बंध क्यों नहीं तोड़ लेते मोदी

लखनऊ । रिहाई मंच ने बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर सेंट्रल यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) की मेस में नानवेज प्रतिबंधित करने को बीबीडीयू के दलित छात्रों द्वारा कुछ दिनों पहले रोहित वेमुला का सवाल उठाने और मोदी की मौजूदगी में मोदी गो बैक का नारा लगाने के चलते नाराज मोदी सरकार द्वारा की गई कुंठित और बदले की कार्रवाई बताया है। मंच ने जेएनयू के छात्रों  द्वारा छात्रों के निलम्बन के खिलाफ चलाए जा रहे भूख हड़ताल का भी समर्थन किया है।

Read more: मोदी गो बैक का नारा लगाने के कारण बीबीएयू के मेस में नान वेज हुआ प्रतिबंधित!

Install CCTV cameras in all prisons, mental asylums and boarding schools...

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

Do your best to put an end to sufferings of isolated Indians. Ending the tradition of human rights abuses in indian prisons, mental asylums and boarding school. Nearly a million Indians are waiting in prisons, mental asylums and boarding schools... For someone who can put an end to their sufferings. If CCTV cameras are installed in all prisons, mental asylums and boarding schools, Atleast it would end the suffering of those people , whose voices cannot cross the boundaries Of prisons, mental asylums and boarding schools.

Read more: Install CCTV cameras in all prisons, mental asylums and boarding schools...

दो देहों के बीच संबंध यांत्रिक है, सेक्स यांत्रिक है, कामवासना यांत्रिक है

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

आखिर तंत्र विज्ञान है क्या ....  अक्षर से क्षर की यात्रा यंत्र, क्षर से अक्षर की यात्रा मन्त्र, अक्षर से अक्षर की यात्रा तंत्र। देह है यंत्र। दो देहों के बीच जो संबंध होता है वह है यांत्रिक। सेक्स यांत्रिक है। कामवासना यांत्रिक है। दो मशीनों के बीच घटना घट रही है। मन है मंत्र। मंत्र शब्द मन से ही बना है। जो मन का है वही मंत्र। जिससे मन में उतरा जाता है वही मंत्र। जो मन का मौलिक सूत्र है वही मंत्र। तो देह है यंत्र। देह से देह की यात्रा यांत्रिक - कामवासना।

Read more: दो देहों के बीच संबंध यांत्रिक है, सेक्स यांत्रिक है, कामवासना यांत्रिक है

सर्वाधिक लोकप्रिय पोस्ट

Follow Us>      Facebook         Twitter         Google+