TPL_GK_LANG_MOBILE_MENU

बिजनेस

कोलकाता में हिंदी व जनसंचार से एमए करने हेतु प्रवेश के लिए 31 मई तक करें आवेदन

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

कोलकाता : नैक द्वारा ए ग्रेड प्राप्त महात्माव गांधी अंतरराष्ट्री य हिंदी विश्वतविद्यालय के कोलकाता केंद्र में सत्र 2016-17 के लिए एमए हिंदी और एमए जनसंचार में प्रवेश के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मई 2016 है। एमए जनसंचार व एमए हिंदी के अलावा एमए शांति व विकास तथा एनजीओ मैनेजमेंट में डिप्लोमा पाठ्यक्रम भी कोलकाता केंद्र में इस वर्ष से प्रारंभ किए गए हैं और उनके लिए भी आवेदन मांगे गए हैं। एमए हिंदी, एमए जनसंचार, एमए शांति व विकास तथा एनजीओ मैनेजमेंट में डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवेदन पत्र ऐकतान, आईए 290, सेक्टर-3, साल्टलेक स्थित कोलकाता केंद्र से प्राप्त किए जा सकते हैं।

Read more: कोलकाता में हिंदी व जनसंचार से एमए करने हेतु प्रवेश के लिए 31 मई तक करें आवेदन

मोदी सरकार के 'अच्छे दिनों' की उपलब्धियों को अब सिनेमा हालों में भी झेलिए

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

नई दिल्ली : केंद्र सरकार की सभी योजनाओं के साथ जल्द ही ‘प्रधानमंत्री’ या राष्ट्रवादी नेताओं के नाम जुड़ सकते हैं और प्रत्येक थिएटर में फिल्मों के प्रदर्शन से पहले नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताने वाले वृत्तचित्रों को अनिवार्य रूप से दिखाया जा सकता है। राज्यों और जिलों में केंद्र सरकार की योजनाओं तथा उपलब्धियों के बारे में बताने के लिए उपाय सुझाने की खातिर गठित मंत्री समूह ने केंद्रीय योजनाओं के साथ ‘प्रधानमंत्री’ तथा अन्य राष्ट्रवादी नेताओं के नाम जोड़ने और सरकार की उपलब्धियों के बारे में फिल्मों के प्रदर्शन से पहले वृत्तचित्र दिखाए जाने सहित विभिन्न सिफारिशें की हैं।

Read more: मोदी सरकार के 'अच्छे दिनों' की उपलब्धियों को अब सिनेमा हालों में भी झेलिए

Petition for time-bound submission of property return as per Lokpal Act

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

IPS officer Amitabh Thakur today filed a Writ petition in Lucknow bench of Allahabad High Court with prayer to direct the Central government not to extend the date for submission of property returns of central government employees, including IAS and IPS officers any further and to ensure that all these public servants submit their property return within time.

Read more: Petition for time-bound submission of property return as per Lokpal Act

जय श्री राम, भारत माता की जय, वन्दे मातरम की जगह अब जय भीम

  • Written by राकेश भदौरिया
  • Category: बिजनेस

User Rating: 0 / 5

Star inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactiveStar inactive

अम्बेडकर नाम की लूट है लूट पाये सो लूट.... अम्बेडकर और दलित प्रेम बना राजनीतिक दलों के लिए संजीवनी...

लगता है कि पहली बार संघ और भाजपा के चिंतकों ने वृहद राजनीतिक सोच के तहत दलित वर्ग में अपना राजनीतिक भविष्य तलाशने के लिए डॉ० भीम राव अम्बेकर पर अपना होम वर्क जोर-शोर से शुरू कर दिया है। संघ प्रमुख मोहन भागवत के आरक्षण की पुनः समीक्षा वाले बयान से हुए राजनीतिक नुकसान की पूरे देश में भरपाई और ख़ास तौर से उत्तर प्रदेश में आगामी विधान सभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए संघ और बीजेपी के रणनीतिकारों ने श्री राम और भारत माता की जय के नारों को पीछे छोड़ते हुए अब नए राजनीतिक समीकरणों को फलीभूत करने की दिशा में जय भीम का नारा पूरे जोशो खरोश से उछाल दिया है। 

Read more: जय श्री राम, भारत माता की जय, वन्दे मातरम की जगह अब जय भीम

कान्हा की नगरी में कर्ज के बोझ तले दबे किसान ने आत्महत्या की

  • Written by प्रवीण कुमार सिंह
  • Category: बिजनेस

User Rating: 5 / 5

Star activeStar activeStar activeStar activeStar active

कान्हा रे, कान्हा अगले जनम मोहे किसान न बनाना

-प्रवीण कुमार सिंह-

राधे-राधे... ब्रज की होली टीवी पर देखते-देखते हम भी मथुरा पहुंचे, होली देखने के लिए। होली को लेकर मन में बहुत उमंग था क्योंकि होली मेरा सबसे पसन्दीदा त्यौहार है। यहां लोगों ने राधे-राधे बोल के स्वागत किया तो मन बहुत प्रसन्न हुआ। लेकिन हुआ ये कि होली तो बाद में खेली जानी थी, साथियों से पता चला कि यहां के एक युवा किसान ने कर्ज के बोझ तले दबे होने के कारण आत्महत्या कर लिया है। अब साथियों के संग गोबर्धन ब्लाक के बोरपा गांव पहुंचे जहां के 35 साल के युवा किसान गोबिन्द सिंह रहने वाले थे। घरवालों ने ओवरसीज बैंक का नोटिस दिखाया जिस पर किसान क्रेडिट कार्ड का लगभग डेढ़ लाख कर्ज था। कर्ज न देने पर खेत कुर्क-नीलाम करने और जेल भेजने के बारे में लिखा था।

Read more: कान्हा की नगरी में कर्ज के बोझ तले दबे किसान ने आत्महत्या की

सर्वाधिक लोकप्रिय पोस्ट

Follow Us>      Facebook         Twitter         Google+